Nepal and China enter collaboration for the trans-border internet connection– News18 Hindi

0
3


चीनी ब्रॉडबैंड इंटरनेट का इस्तेमाल करेगा नेपाल, भारत पर खत्म हुई निर्भरता

सांकेतिक तस्वीर

News18Hindi

Updated: January 12, 2018, 11:58 PM IST

नेपाल ने चीन के साथ ट्रांस-बॉर्डर इंटरनेट कनेक्शन के समझौते पर हस्ताक्षर किया. नेपाल अब चीनी ब्रॉडबैंड इंटरनेट का इस्तेमाल करेगा. इस तरह इंटरनेट के लिए अब नेपाल को भारत पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा. हालांकि चीन के फाइबर लिंक द्वारा मिलने वाली इंटरनेट की शुरुआती स्पीड भारत से मिलने वाली स्पीड से कम है.

चीनी फाइबर लिंक से मिलने वाली इंटरनेट की शुरुआती स्पीड 1.5 गीगाबीट प्रति सेकेंड (जीबीपीएस) होगी. नेपाल के सूचना एवं संचार मंत्री मोहन बहादुर बासनेत ने नेपाल-चीन सीमा पार ऑप्टिकल फाइबर लिंक का यहां एक कार्यक्रम में उद्घाटन किया.

साल 2016 में सरकारी कंपनी नेपाल टेलीकॉम (एनटी) ने चीन की सरकार कंपनी चाइना टेलीकम्युनिकेशन ने चीन के माध्यम से नेपाल में इंटरनेट के परिचालन के लिए समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए थे.

बासनेत ने कहा कि नेपाल और चीन के बीच स्थापित ऑप्टिकल फाइबर लिंक देश भर में इंटरनेट बुनियादी ढांचे के विकास में महत्वपूर्ण उपलब्धि होगी. यह नेपाल और चीन के बीच आधिकारिक स्तर के साथ-साथ नागरिक स्तर पर भी द्विपक्षीय संबंधों को बढ़ावा देगा.ये भी पढ़ें-
नेपाल महिला क्रिकेट टीम की कप्तान को अब कश्‍मीर से नहीं लगता डर
नेपाल में सात फरवरी को होगा नेशनल एसेंबली का चुनाव

 



Source link

उत्तर छोड़ें