स्वच्छता सर्वेक्षण में फिर इंदौर ने बाजी मारी, झारखंड सबसे स्वच्छ राज्य

0
6



स्वच्छता सर्वेक्षण 2018 में एक बार फिर इंदौर और भोपाल ने बाजी मार ली है. पिछले साल की तरह ये दोनों शहर इस बार भी सफाई के मामले में पहले और दूसरे नंबर पर रहे हैं. चंडीगढ़ इस सूची में तीसरे स्थान पर रहा है. सर्वेक्षण के नतीजों की घोषणा बुधवार को आवास और शहरी विकास मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने की. उन्होंने इंदौर और भोपाल के लोगों को बधाई दी. मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी इस पर खुशी जताई है.

शहरी निकायों में नई दिल्ली नगर पालिका परिषद (एनडीएमसी) तीन लाख से कम आबादी वाला सबसे साफ शहर घोषित किया गया है. वहीं सभी राज्यों की राजधानियों में ग्रेटर मुंबई को सबसे साफ शहर का दर्जा दिया गया है. सर्वे के मुताबिक 10 लाख से ज्यादा आबादी वाले शहरों में विजयवाड़ा सबसे साफ शहर रहा. उधर, तीन लाख से 10 लाख की आबादी वाले शहरों में मैसूर ने पहला स्थान हासिल किया है. राज्यवार देखें तो सर्वे में झारखंड को स्वच्छता के मोर्चे पर सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाला राज्य घोषित किया गया है. दूसरे स्थान पर महाराष्ट्र है. तीसरे स्थान पर छत्तीसगढ़ को जगह मिली है.

स्वच्छता सर्वेक्षण में 37.66 लाख लोगों ने अपनी राय दी है. ये लोग देश की 4,203 नगरपालिकाओं से ताल्लुक रखते हैं. सर्वे से जुड़े अधिकारियों ने बताया कि फील्ड सर्वे एक स्वतंत्र एजेंसी से कराया गया है. उनके मुताबिक शहरों को रैंकिंग देने के लिए डेटा तीन स्रोतों से इकट्ठा किया गया है. इसमें, सेवाओं के स्तर में होने वाली प्रगति, औचक निरीक्षण और लोगों की फीडबैक को शामिल किया गया है.



Source link

उत्तर छोड़ें