विदेश नीति में खामियों की वजह से भारत अपने ही आस-पड़ोस में अकेला पड़ता जा रहा है : राहुल गांधी

0
18



कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अब विदेश नीति के मोर्चे पर केंद्र सरकार को घेरने की कोशिश की है. उन्होंने कहा है कि भारत दक्षिण एशिया में अकेला पड़ता जा रहा है और इसके लिए राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) सरकार की विदेश नीति जिम्मेदार है. इसके साथ ही राहुल ने यह भी कहा है कि भारत से उलट चीन इस क्षेत्र के देशों के साथ घनिष्ठता और ‘अच्छे संबंधों’ के जरिये अपना प्रभुत्व बढ़ा रहा है. कांग्रेस अध्यक्ष इन दिनों कर्नाटक में ‘जन आशीर्वाद यात्रा’ पर हैं. मंगलवार को यहां कुछ कारोबारियों मुलाकात के दौरान उन्होंने यह बात कही है.

चीन के बढ़ते असर पर कांग्रेस अध्यक्ष का आगे कहना था, ‘भारत को चीन से प्रतिस्पर्धा के लिए एक रास्ता तलाशना होगा और वह रास्ता आक्रामक और सैन्य नहीं हो सकता. चीन से आगे निकलने के लिए हमें शांतिपूर्ण राह निकालने की जरूरत है. चीन आज नेपाल और पाकिस्तान के अलावा श्रीलंका और मालदीव, यहां तक कि म्यांमार में भी पहुंच गया है. कहीं न कहीं इसके पीछे एनडीए सरकार की विदेश नीति की कमियां भी जिम्मेदार हैं.’ राहुल गांधी के मुताबिक इस समय दुनिया अंतरराष्ट्रीय राजनीति के एक नए दौर में प्रवेश कर रही है जहां अमेरिका, रूस और चीन के बीच तनातनी देखी जा सकती है और इसीलिए जरूरी होगा कि भारत एक स्पष्ट सोच के साथ रास्ता चुने और उसपर आगे बढ़े.

राहुल गांधी ने विदेश नीति और अंतरराष्ट्रीय संबंधों के अलावा रोजगार के मोर्चे पर भी नई दिल्ली और बीजिंग की तुलना करते हुए केंद्र सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा है, ‘चौबीस घंटे के भीतर चीन में 50 हजार नौकरियां पैदा होती हैं जबकि इस अवधि में एनडीए सरकार रोजगार के महज 450 अवसर ही पैदा कर पाती है. मुझे कहते हुए दुख होता है कि पिछले चार सालों में बेरोजगारी भयानक समस्या के तौर पर उभरी है.’



Source link

उत्तर छोड़ें