इस ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज ने विराट कोहली को बताया स्मिथ से बेहतर खिलाड़ी

0
6


इस ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज ने विराट कोहली को बताया स्मिथ से बेहतर खिलाड़ी

स्टीव स्मिथ से बेहतर खिलाड़ी हैं विराट कोहली

भाषा

Updated: September 13, 2017, 10:06 AM IST

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान माइकल क्लार्क का मानना है कि विराट कोहली की अगुआई में भारत के प्रदर्शन में सुधार का सबसे बड़ा कारण यह है कि मौजूदा भारतीय कप्तान हार से नहीं डरता और जीत हासिल करने के लिए आक्रामकता के साथ टीम की अगुआई करता है.

क्लार्क ने एक चर्चा के दौरान कोहली की कप्तानी की तारीफ करते हुए कहा, “मैं हमेशा से सौरव गांगुली की कप्तानी का कायल रहा हूं. वह तारीफ का हकदार है. उसने टीम में एक माहौल तैयार किया जिसे महेंद्र सिंह धोनी और कोहली ने अपने-अपने तरीकों से आगे बढ़ाया. इस टीम (मौजूदा टीम इंडिया) में निश्चित तौर पर आक्रामकता है. कोहली बेहद आक्रामकता के साथ टीम की अगुआई करते हैं और जीत की कोशिश करते हुए हारने से भी नहीं डरते.” कोहली और ऑस्ट्रेलिया के मौजूदा कप्तान स्टीव स्मिथ की बल्लेबाज़ी और कप्तानी तुलना के बारे में पूछने पर क्लार्क ने स्वीकार किया कि भारतीय कप्तान बेहतर वनडे बल्लेबाज़ है.

क्लार्क ने कहा, “विराट कोहली वनडे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में बेहतर बल्लेबाज़ हैं लेकिन दोनों के बीच मामूली अंतर है. दोनों काफी अच्छे खिलाड़ी हैं लेकिन कप्तान के रूप में यह महत्वपूर्ण होता है कि टीम आपके नेतृत्व में कैसा प्रदर्शन कर रही है. मैं स्मिथ को बेहतर टेस्ट बल्लेबाज़ मानता हूं.” भारत के पूर्व स्टार बल्लेबाज़ वीवी लक्ष्मण की नज़र में भी कोहली स्मिथ की तुलना में बेहतर कप्तान हैं.

उन्होंने कहा, “कोहली बेहतर कप्तान हैं. दोनों युवा कप्तान हैं लेकिन हमने देखा है कि टेस्ट में स्टीव स्मिथ पूर्वानुमान लगाने में उतने प्रभावी नहीं हैं. टेस्ट सीरीज़ के दौरान गेंदबाज़ी में बदलाव करते हुए उनके फैसले काफी अच्छे नहीं थे.” लक्ष्मण ने कहा, “कोहली को साथ ही धोनी जैसे अनुभवी खिलाड़ी की मौजूदगी का भी फायदा मिलता है जो लंबे समय तक टीम की अगुआई कर चुके हैं और काफी सफल रहे हैं.” लक्ष्मण ने साथ ही कहा कि उन्हें मौजूद भारतीय टीम में कोई कमज़ोर पक्ष नजर नहीं आता.उन्होंने कहा, “श्रीलंका दौरे पर टीम ने आक्रामक क्रिकेट खेला और सभी नौ मैचों में जीत दर्ज की जो दर्शाता है कि टीम प्रत्येक विभाग में सुधार कर रही है. खिलाड़ी गेंदबाज़ी, बल्लेबाज़ी, फील्डिंग सभी विभागों में अपने प्रदर्शन में सुधार करना चाहते हैं.” लक्ष्मण ने कहा, “भारतीय टीम प्रत्येक विभाग में काफी संतुलित है और मुझे इस टीम में कोई कमज़ोर पक्ष नजर नहीं आता.”

ये भी पढ़ें:

लक्ष्मण का दावा, कमज़ोर कंगारुओं को 4-1 से हराएंगे टीम इंडिया के धुरंदर

टेस्ट में स्पिन से कांपने वाले कंगारुओं को वनडे में क्यों नहीं लगता है डर?



First published: September 13, 2017



Source link

उत्तर छोड़ें